s क्या सेक्स खिलोने का इस्तेमाल सुख के लिए किया जाता है, महिलाये अपने आप को सेक्स खिलोने से कैसे संतुस्ट कर सकती है, और अपने योन जीवन को कैसे बदल सकती है?
  1. HOME
  2. क्या सेक्स खिलोने का इस्तेमाल सुख के लिए किया जाता है, महिलाये अपने आप को सेक्स खिलोने से कैसे संतुस्ट कर सकती है, और अपने योन जीवन को कैसे बदल सकती है?

क्या सेक्स खिलोने का इस्तेमाल सुख के लिए किया जाता है?

क्या सेक्स खिलोने का इस्तेमाल सुख के लिए किया जाता है?

आज पूरी दुनिया में सेक्स खिलोने का प्रचलन काफी बढ़ता जा रहा है। इसने एक इंडस्ट्री का रूप ले लिया है। दूसरे देशों की तरह भारत में भी सेक्स खिलोने का कारोबार बढ़ रहा है,आज कई सारी ई-कामर्स साइट है जहा पर कई तरह के सेक्स खिलोने बचे जाते है| मीडिया में सेक्स खिलोने के अवैध कारोबार से संबंधित कई खबरें सामने आ चुकी हैं।सेक्स खिलोने आज हर किसी की जरुरत बन गयी है|प्राचीन काल में भी सेक्स के आनंद को बढ़ाने के लिए कृत्रिम साधनों का प्रयोग किया जाता था। महर्षि वात्स्यायन ने अपने प्रसिद्ध ग्रंथ 'कामसूत्र' में कृत्रिम लिंग के बारे में विस्तार से उल्लेख किया है। ये धातु, शीशे और लकड़ी के बने होते थे। दुनिया की दूसरी सभ्यताओं में भी कृत्रिम लिंग पाए गए हैं। पर उन दिनों संभवत: इन्हें सेक्स के खिलौने के रूप में नहीं देखा जाता था और न ही इनका कोई बाजार था।आज तकनीक के विकास की वजह से तरह-तरह के सेक्स खिलोने बनाए जा रहे हैं।सेक्स खिलोने वो डिवाइसेस हैं, जिनका इस्तेमाल सेक्शुअल प्लेज़र को बढ़ाने के लिए किया जाता है। बहुत से सेक्स खिलोने लिंग और योनि के आकार-प्रकार में मिलते हैं। कई बैटरी से चलने वाले होते हैं। ये वाइब्रेटिंग और नॉन-वाइब्रेटिंग, दोनों प्रकार के होते हैं|कोई भी महिला- पुरुष इनका इस्तेमाल कर के अपने आप को सेक्स से संतुस्ट कर सकता है भरपूर आनंद ले सकता है|

महिलाये अपने आप को सेक्स खिलोने से कैसे संतुस्ट कर सकती है?

महिलाये अपने आप को सेक्स खिलोने से कैसे संतुस्ट कर सकती है?

सेक्स खिलोने का इस्तेमाल न सिर्फ सिंगल महिलाएं और पुरुष बल्कि, शादी-शुदा लोग भी करते हैं। हालांकि, भारत में इसका इस्तेमाल कितने प्रतिशत तक किया जाता है इसका कोई सटीक आंकड़ा उपलब्ध नहीं हैं क्योंकि, भारत में अभी भी सेक्स खिलोने पर न खुलकर बात की जाती है भारत में भी सेक्स खिलोने के इस्तेमाल में लोग दिलचस्पी लेते हैं। सेक्स खिलोने से सेक्स करने से दवा के विपरीत कम साइड-इफेक्ट्स हैं और कई महिलाओं को क्लिटोरल ओर्गास्म और जी-स्पॉट ओर्गास्म का आनंद लेने में यह मददगार साबित हो सकता हैं और कई महिलाओं को यह ऐसा सुख देता है जो उन्होंने पहले कभी ना महसूस किया हो। सेक्स खिलोने लोगों को सेक्सुअल प्लेजर और आनंद लेने के लिए जारी रखने में मदद कर सकते हैं जब पेनिट्रेटिव सेक्स संभव नहीं है।पुरुषों और महिलाओं दोनों के लिए सेक्स खिलोने को इस तरह से पेश किया गया है वे सेक्स के बारे में एक बिना किसी संकोच के बात कर सकें कि उन्हें एख कपल की तरह क्या पसंद है या अकेले उन्हें कैसा सेक्स पसंद है।

महिलाये सेक्स खिलोने से कैसे अपने योन जीवन को कैसे बदल सकती है?

महिलाये सेक्स खिलोने से कैसे अपने योन जीवन को कैसे बदल सकती है?

कई बार देखने को मिलता है कि लोग अपने वैवाहिक जीवन में कई तरह की परेशानियों का सामना करते हैं. यह भी देखने को मिलता है कि ज्यादातर मामलों में महिलाएं ही शारीरिक संबंधों में रुचि कम हो जाती है. क्या हो सकती है|ऐसे में मामलो में सेक्स खिलौना का इस्तेमाल करना काफी फायदेमंद हो जाता है फ्रिजिडिटी या ठंडा हो जाना एक ऐसी अवस्था है जिसमें महिला यौन उत्तेजना हासिल करने में नाकाम रहती हैं. ऐसी अवस्था में संभव है कि वह यौन संबंध बनाने के लिए जरूरी इच्छा, उत्तेजना को बढाना ऐसे कई वैब्रेटर सेक्स खिलोने है जिनसे महिलाये अपनी यों उतेजना को बढ़ा सकती है| सेक्स खिलोने महियो को लिए बेहद अच्छे साबित हुए है महिला अपने अकेलेपन और सेक्स की इच्छा की पूर्ति कर सकती है| अधिकांश मामलों में पाया गया है कि महिला और पुरुष के बीच का संवाद अंतर इसका मुख्य कारण है. महिलाएं सेक्स को केवल एक शारीरिक संबंध की तरह नहीं देखती. उनके लिए ये शरीर से बढ़कर एक भावानात्मक जुड़ाव है. जैसे ही रिश्ते में ये भावनात्मकता टूटेगी इसका असर सेक्स लाइफ पर पड़ना तय है| भी हो सकता है कि शिक्षा के अभाव में महिला को बर्थ कंट्रोल के बारे में ठीक जानकारी ना हो और वो गर्भ ठहरने के डर के मारे सेक्स से घबराती है| सेक्स खिलौना का इस्तेमाल करने से महिलायों को किसी भी दर का सामना नहीं करना पड़ता सेक्स खिलोने सेक्स का सुख भी देते है और गर्भ से बचाव करते है| महिलाओं में सेक्स की इच्छा उम्र के साथ भी घटती है. खासतौर पर मासिक धर्म के बंद होने के बाद. ऐसा मुख्य तौर पर एस्ट्रोजन लेवल के घटने और पीरियड्स से जुड़ी अन्य समस्याओं के कारण होता है| ऐसे कई हस्त्मेठुं खिलोने जिनक उपयोग करने से महिलायों की समस्या दूर होती है योनी सुजन या पीरियड्स के दिनों में होने वाले दर्द से सेक्स खिलोने राहत देते है और महिलायों को योन आनंद के उनकी तकलीफों को भी दूर करता है|

क्या सेक्स खिलोने महिलायों को नुक्सान पहुचाते है

क्या सेक्स खिलोने महिलायों को नुक्सान पहुचाते है

सेक्स खिलोने बस एक खिलौना होते हैं। इससे सिर्फ सेक्स का प्लेजर प्राप्त किया जा सकता है। यह मनुष्य की तरह प्यार नहीं जता सकता है।इन खिलोने का इस्तेमाल कभी कभी करना चाहिए अधिक उसे करने से वास्तविक स्पर्श महसूस नहीं हो पता ।इन खिलोने का इस्तेमाल लोगों को अकेले रहने के लिए आदी बना सकता है। क्योंकि, अगर एक बार इसकी लत लग जाती है, तो फिर उन्हें साथी के साथ चरम सुख प्राप्त करने में कठिनाई हो सकती है।सेक्स खिलोने का इस्तेमाल यौन संचारित रोगों का खतरा बढ़ा सकता है। इसलिए, हर बार इसका इस्तेमाल करने से पहले इसे अच्छे से साफ करना चाहिए।

MENU

TOP